Lhasa Apso Breed Information in Hindi

❈ शेयर करें -

Lhasa Apso in Hindi: नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का DogKiDuniya.com में। दोस्तों आज के Lhasa Apso नस्ल के बारे में जानकारी देने वाले हैं। आपको बता दें कि Lhasa एक टॉय ब्रीड है।

इससे पहले के लेख में हम ने Lhasa Apso Price के बारे में बात की थी जिसे आप नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर पढ़ सकते हैं। यदि आप भी इसे अपने घर लाने की सोच रहे हैं तो Lhasa Apso Breed in Hindi की पूरी जानकारी इस पेज पर आपको मिलेगी। तो चलिए विस्तार से चर्चा करते हैं..

Lhasa Apso in Hindi : संक्षिप्त परिचय

कुत्ते का नामल्हासा एप्सो
प्रजाति (ग्रूप)टॉय ब्रीड
उत्पत्तितिब्बत
वैज्ञानिक नामCanis lupus familiaris
लेख का नामLhasa Apso Breed Information in Hindi
रंगblack, brownish, dark grizzle, golden, honey, parti-colour, sandy, slate, smoke or white
ऊंचाईकुत्ता– 8 से 10 इंच
कुतिया– 7 से 9 इंच
वजनकुत्ता– 5 से 7 किलोग्राम
कुतिया– 4 से 6 किलोग्राम
जीवनकाल14-20 साल
स्टैंडर्डFCI patronage: United Kingdom

Lhasa Apso Breed in Hindi

ल्हासा एप्सो एक नॉन-स्पोटिंग डॉग ब्रीड है जिसकी उत्पत्ति तिब्बत से हुई है। इसका नाम लहासा अपसो दो अलग-अलग शब्दों का संकेत है जिसमें पहला शब्द लहासा (Lhasa) तिब्बत की राजधानी को प्रदर्शित करता है जबकि Apso शब्द तिब्बती भाषा से लिया गया है।

Advertisements

हालांकि इसके उत्पत्ति के संदर्भ में अभी कई मतभेद हैं। कुछ लोगों का मानना है कि Apso शब्द का तिब्बती भाषा में मतलब “Billy Goat” होता है जिसे Bark Dog भी कहते हैं जो इस बात का संकेत है कि यह एक बेहतरीन वॉच डॉग है।

जीवन काल (Life Span)

2004 में किए गए केनल क्लब सर्वे यह दर्शाता है कि इन कुत्तों का औसत जीवनकाल 14 वर्ष तक का होता है। जबकि यूनाइटेड किंगडम के कई पशु चिकित्सक इनकी जीवन अवधि 13 वर्ष मानते हैं।

आपको बता दें कि यह सबसे अधिक उम्र तक जीवित रहने वाली पिल्ले की नस्ल है। इसका जीवनकाल 20 वर्षों तक का हो सकता है।

आकार व वजन (Size & Weight)

एक सामान्य Lhasa Apso मेल पप्पी की ऊंचाई 8 से 10 इंच तथा वजन 5 से 7 किलोग्राम जबकि महिला पप्पी की ऊंचाई 7 से 8 इंच तथा वजन 4 से 6 किलोग्राम तक हो सकता है।

रंग (Color)

Lhasa Apso काला, भूरा, गहरा भूरा, सुनहरा, शहद, आंशिक रंग, रेतीला, स्लेट, धुआं या सफेद इत्यादि रंगों में पाए जाते हैं।

कोट (Coat)

इनके शरीर पर घने लंबे बालों का दोहरा कोट होता है बाहरी कोट सीधा और कड़ा जबकि मध्यम कोट थोड़ा नरम और मुलायम होता है।

दिखावट (Appearance)

ल्हासा एप्सो देखने में एकदम खिलौने जैसे दिखते हैं और इनका पूरा शरीर लंबे लंबे बालों से ढका हुआ होता है। इनकी काली गहरी आंखें सबका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कर सकती हैं। जबकि इनकी नाक का ऊपरी हिस्सा काला और लंबे लटकते हुए कान होते हैं।

इनकी पूंछ मुड़ी हुई इनके पीठ के पीछे तक आती है। Stanley Coren की Intelligence of Dogs की लिस्ट में इन्हें 138 कुत्तों में से 68वाँ स्थान दिया गया है।

Lhasa Apso Breed
Lhasa Apso Breed

ल्हासा एप्सो का इतिहास (Lhasa Apso History)

Lhasa Apso History हम आपको बता चुके हैं कि Lhasa Apso मूल रूप से तिब्बत से संबंध रखता है। कहा जाता है कि बीसवीं शताब्दी की शुरुआत में कुछ तिब्बती कुत्तों को मिलिट्री के लोगों द्वारा यूनाइटेड किंगडम लाया गया जोकि भारतीय उपमहाद्वीप से वापस जा रहे थे। यह मिश्रित प्रकार के कुत्ते थे जिन्हें बाद में ल्हासा एप्सो या Lhasa Terrier के नाम से जाना जाने लगा।

ल्हासा की मूल अमेरिकी जोड़ी थुबटेन ग्यात्सो, 13वें दलाई लामा से सी. सुयदम कटिंग को एक उपहार थी, जो 1933 में संयुक्त राज्य अमेरिका पहुंचे थे। मिस्टर कटिंग ने तिब्बत की यात्रा की थी और दलाई लामा से मिले थे। उस समय, इंग्लैंड में केवल एक ल्हासा अप्स पंजीकृत था।

अमेरिकन केनेल क्लब ने 1935 में टेरियर ग्रुप में आधिकारिक तौर पर नस्ल को स्वीकार किया, और 1959 में नस्ल को गैर-स्पोर्टिंग समूह में स्थानांतरित कर दिया। यूके में, उन्हें यूटिलिटी ग्रुप में रखा गया है।

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा “Lhasa Apso Breed Information in Hindiलेख पसंद आया होगा। तो इसे शेयर करें और रोज़ाना हमारी साइट DogKiDuniya को बुक्मॉर्क करें और विज़िट करें।

❈ शेयर करें -

About the author

admin

View all posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *