Pug Dog Breed Information in Hindi

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी का DogKiDuniya पोर्टल में। आज के इस लेख में हम पर Pug Dog के बारे में बात करने वाले हैं. Pug एक बहुत ही मशहूर और दुनिया भर में पसंदीदा कुत्ते की नस्लों में से एक है. आइए इस लेख में इस नस्ल के बारे में विस्तार से जानते हैं..

Pug कुत्ते की नस्लें मूल रूप से चीन से उत्पन्न हुई हैं। इनकी शारीरिक संरचना की बात की जाए तो इनके छोटे मुंह वाले चेहरे, झुर्रीदार और घुमावदार पूँछ होती है। यह ज्यादातर वर्गाकार मांसल शारीरिक संरचना में पाए जाते हैं। आइये आगे बढ़ते हैं जिनके संक्षिप्त परिचय के साथ..

Pug Dog : संक्षिप्त परिचय

कुत्ते का नामपग
प्रजाति (ग्रूप)छोटी नस्ल
उत्पत्तिचीन
वैज्ञानिक नामCanis lupus familiaris
लेख का नामPug Dog Breed Information in Hindi
रंगहल्का भूरा, काला, फान
ऊंचाईकुत्ता– 10 से 14 इंच
कुतिया– 8 से 12 इंच
वजनकुत्ता– 6 से 8 किलोग्राम
कुतिया– 5 से 9 किलोग्राम
जीवनकाल12-15 साल
स्टैंडर्डअमेरिकन केनल क्लब, FCI

Pug Dog Breed in Hindi

19वीं शताब्दी के दौरान यूनाइटेड किंगडम की रानी विक्टोरिया के महल में Pug को एक विशिष्ट स्थान प्राप्त था और यह उस रॉयल फैमिली का हिस्सा थे. यह बहुत ही सामाजिक और साथी डॉग होते हैं.

खुद अमेरिकन केनल क्लब इस नस्ल को ‘एवन tempered और चार्मिंग’ जैसे टाइटल से नवाजा है.

आइए अब इनके जीवन काल, आकार, वजन, दिखावट स्वभाव इत्यादि के बारे में विस्तार से एक-एक करके जानते हैं।

  क्या Lebra Dog अच्छा पालतू जानवर हैं?
Pug Dog Breed Information in Hindi
Pug Dog Breed Information in Hindi

जीवन काल

एक pug dog का औसत जीवन काल 12 से 15 वर्षों तक का हो सकता है। लेकिन यदि इनके स्वास्थ्य और खानपान पर विशेष ध्यान दिया जाए तो इसे बढ़ाया भी जा सकता है।

आकार व वजन

एक वयस्क pug puppy का वजन 6 से 8 किलोग्राम जबकि फीमेल का थोड़ा कम हो सकता है। वहीं वयस्क मेल vodafone dog की आवश्यक ऊँचाई इसके कंधे तक 25 से 30 सेंटीमीटर जबकि मादा की 22 से 26 सेंटीमीटर तक हो सकती है।

रंग व कोट

Pug के पास चिकना, चमकदार दोहरे बालों का कोट होता है जोकि हल्के भूरे से लेकर काले तक हो सकता है। सामान्यता इनके कान और मुंह का अगला हिस्सा काला होता है। ये अक्सर फॉन रंगों में ही पाए जाते हैं।

  Dog के बाल झड़ने के कारण

दिखावट

Pug डॉग देखने में ठोस शारीरिक संरचना वाले दिखते हैं लेकिन इनका मुंह छोटा और चपटा होता है जिस पर चमड़े की मुड़ी हुई झुर्रियां होती है।

इनके पास एक मुड़ी हुई पूँछ होती है जो मुड़कर इनके पीठ तक आती है। इसके अतिरिक्त इनके पास मोटे, छोटे पैर होते हैं जो तेजी से दौड़ने में इनकी मदद करते हैं।

इनके पास दो मुख्य आकार के कान होते हैं जिन्हें रोज और बटन भी कहते हैं। इनका कंधा मुख्य रूप से पीछे की तरफ झुका हुआ होता है।

पग डॉग का इतिहास

पग पहली बार 16 वीं शताब्दी के आसपास चीन से यूरोप में लाए गए थे। पुराने समय में इनका विकास केवल चीन में शासक परिवारों के साथी के रूप में किया गया था। कई चीनी शासकों के घराने में इन्हें ऊंची प्रतिष्ठा प्राप्त थी। धीरे-धीरे पग एशिया के दूसरे भागों में भी फैलना शुरू हुए।

तिब्बत में बुद्धिस्ट साधु अपने साथ पग को पालतू जानवर के रूप में रखते थे। 17वीं शताब्दी के आसपास यूरोप में भी इनकी लोकप्रियता बढ़ने लगी। 18वीं शताब्दी में यह फ्रांस तक पहुंच गए और 19वीं शताब्दी में आखिरकार इंग्लैंड की महारानी विक्टोरिया के दरबार में इन्हें एक खास स्थान प्राप्त हुआ।

19वीं शताब्दी के आसपास ये यूनाइटेड स्टेट में फैला शुरू हो गए जिनका इस्तेमाल शो रिंग के लिए किया जाता था। 1885 में अमेरिकन केनल क्लब ने इस नस्ल को मान्यता प्रदान की। वहीं 1931 में इनका खुदका पग डॉग क्लब ऑफ अमेरिका की स्थापना हुई।

21वीं शताब्दी के आसपास मुड़े हुए चपटे चेहरे और छोटे पैर वाले पग डॉग की उत्पत्ति शुरू हुई। लेकिन स्वास्थ्य समस्याओं में यह अग्रणी थे। 2004 में रियो डी जेनेरियो डॉग शो में डबल डी चिनॉबलु मास्टरपीस नाम के पग ने वर्ल्ड चैंपियन का दर्जा प्राप्त किया।

  45 Days के जर्मन शेफर्ड पप्पी को क्या दे खाने में ओर कितना दे?

पग डॉग का स्वभाव

पग नस्ल को प्रायः लैटिन भाषा में “multum in parvo” or “much in little” or “a lot of dog in a small space” जैसे शब्दांशों से वर्णित किया गया है। पग दुनिया भर में अपने अनूठी और आकर्षक व्यक्तित्व और छोटे आकार के कारण प्रसिद्ध है।

यह मजबूत और परिवार में बच्चों के साथ तालमेल बनाने में सक्षम और कम आक्रामक होते हैं। यह नस्ल ज्यादातर बच्चों की शौकीन होती है और उनके साथ खेलने की जिद्दी होती है। यह अपने मालिक के मनोदशा के आधार पर शांत या चंचलता प्रकट करने में सक्षम होते हैं।

यह बहुत ही प्लेफूल और मानव साथी होते हैं। इन्हें प्रायः “परछाई” भी कहा जाता है क्योंकि यह हमेशा अपने मालिक के आसपास परछाई की तरह रहना पसंद करते हैं। और उनका ध्यान अपनी तरफ खींचने की कोशिश करते हैं।

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा “Pug Dog Breed Information in Hindiलेख पसंद आया होगा। तो इसे शेयर करें और रोज़ाना हमारी साइट DogKiDuniya को बुक्मॉर्क करें और विज़िट करें।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *