Puppy care tips in Hindi | पिल्ला की देखभाल कैसे करें, Basic Guide 2023

❈ शेयर करें -

Black Labrador Dog | काला लैब्राडोर dog कीमत और रख रखाव खर्च 2023 – Puppies पालने का प्रचलन काफी तेजी से बढ़ रहा है, बड़े शहरों के साथ ही साथ आप लोग छोटे शहरों में भी अपने घरों में विभिन्न अलग-अलग किस्म के Puppies पाल रहे हैं,

आज के इस आर्टिकल में हम Puppy care tips in Hindi के बारे में खास बात करेंगे और आपको बताएंगे कि आप को किस प्रकार से आपको अपने पिल्ले की देखभाल करनी चाहिए?

Puppy care tips in Hindi
Puppy care tips in Hindi

आप इस बेसिक गाइड को फॉलो करके आसानी से अपने Puppy की देखभाल कर सकते हैं तो चलिए जानते हैं स्टेप बाय स्टेप –

Advertisements

Puppy care tips in Hindi, Step by Step

अपने पिल्ले के देखभाल के लिए उसके उम्र के साथ-साथ कुछ महत्वपूर्ण चीजें हैं जिन्हें आपको खासतौर से ध्यान देना है वह क्या-क्या है चलिए जानते हैं –

Basic Health – बुनियादी स्वास्थ्य

सबसे पहला बात आपको अपने Puppy के स्वास्थ्य को ध्यान में रखना है जिसके लिए उसे अच्छा फ्रेश पानी, पोषण से युक्त भोजन, समय से खाना, समय से सोना, समय समय पर उसका टीकाकरण और स्वास्थ्य संबंधित उसकी सामान्य जांच जो, उसके एक बेहतर स्वास्थ्य के लिए जिम्मेदार हो सकती है.

इन सब चीजें को ध्यान रख करके आप अपने Puppies के Health को बेहतर कर सकते हैं यह सबसे बेसिक चीज है जिसे आपको ध्यान देना चाहिए, वह कहते हैं की “हेल्थ इस वेल्थ” यह बात Puppy के लिए भी लागु होती है.

Puppy care tips in Hindi – Safety(सुरक्षा)

जब भी आप एक नन्हे से Puppy को अपने घर पर लाते हैं, तो उसके सुरक्षा का ध्यान उसके बेसिक हेल्थ के बाद दूसरे नंबर पर आता है. उसके सुरक्षा का ध्यान हमें ठीक उसी प्रकार से देना चाहिए।

Puppy care tips in Hindi - Basic Health

जैसे कि एक नन्हा बच्चा आपके घर में हो इस मामले में आपको पप्पी को उचित तापमान पर रखना चाहिए और उसके लिए खास ऐसा वातावरण जो उसके लिए सुरक्षित हो.

सामान्य रूप से यह देखा गया है कि पीले अपने मुंह से अन्वेषक करते हैं और वे किसी चीज को कुतरने की कोशिस करते रहते हैं.

इसलिए इसको आपको ध्यान में रखना है कि किसी Hard चीज को वह न कुतरे नहीं तो उसके मसूड़े में चोट लग सकती है. आपको उसे ऐसी चीज को देना चाहिए जिससे कि वह उसे आसानी से चबा सके और उसके मुंह में किसी प्रकार की चोट भी ना लगे.

Psychological – मनोवैज्ञानिक सोच

बेसिक जरूर पप्पी की पूरी होने के पश्चात उसके लिए सबसे बड़ी मनोवैज्ञानिक आवश्यकता होती है एक तरफ जहां से उन्हें लाया गया है वह एक बड़े समूह का हिस्सा थे.

किंतु अब वह एक परिवार का हिस्सा है, इसलिए उनके परिवार के हिसाब से डालने के लिए उनका सामाजिकरण करना आवश्यक है,

इसके लिए आपको उनके साथ प्यार से पेश आना है और धीरे-धीरे चीजों को करके सिखाना है. पप्पी की उम्र बढ़ने के साथ वह अपनी दुनिया का निर्माण करेगा और आपके साथ सहज रूप से फिट हो जाएगा।

Strong relationship – मज़बूत रिश्ता

Puppy की उम्र जब छोटी होती है तो वह नन्हे बच्चे के समान किसी भी चीज को बेहतर तरीके से नहीं समझ पाते हैं और वह यह भी नहीं जनता है की उसके लिए क्या सही है और क्या गलत है.

Puppy care tips in Hindi - Strong relationship

इसलिए कभी – कभी वे कुछ ऐसे एक्टिविटी भी कर सकते हैं जिसे देख कर आपको गुस्सा आ सकता है.

ऐसे में उसके साथ प्यार से पेश आएं और एक बेहतर Strong relationship बनाने की कोशिस करें जिससे वह आपको पसंद करे. समय समय पर उसे खाने के लिए कुछ खास चीज भी दे सकते हैं.

Right and Wrong thing, Training

Puppy की उम्र बढ़ने के साथ ही साथ उसके सही व्यवहार को प्रोत्साहित करना और उसका उत्साहवर्धन करना बहुत जरूरी होता है. ताकि उसे सही और गलत चीजों में अंतर धीरे-धीरे पता चले.

इसके लिए आप उसके साथ खेल सकते हैं उसे कुछ प्यार दे सकते हैं, जब वह सही चीजें करता है तो, किंतु यदि वह कोई गलत चीज करता है तो उसके साथ थोड़ी कठोरता के साथ पेश आना चाहिए, ताकि उसे गलत और सही चीजों में अंतर आभास हो.

Puppy care tips in Hindi – Don’t be harsh (कठोर मत बनो)

छोटे बच्चों के सामान Cute Puppies में भी बहुत सारी ऊर्जा होती है इसके उपयोग का आपको ध्यान रखना चाहिए जो उसके स्वास्थ्य को बेहतर रखेगा और उसे एक बेहतर नींद लेने में भी मदद करेगा.

इसके लिए आपको उसे समय-समय पर टहलने के लिए ले जाना चाहिए और उसे कुछ समय के लिए पार्क में या फिर किसी गार्डन में दौड़ने की छूट देनी चाहिए।

यदि आप ऐसा करेंगे तो आप देखेंगे कि उसे आप किसी चीज को जल्दी से सीखा भी सकते हैं. क्योंकि एक बेहतर स्वास्थ्य के लिए एक्सरसाइज काफी ज्यादा जरूरी होती है.

Socialization – समाजीकरण

एक बेहतर पप्पी को एक अच्छा पारिवारिक कुत्ता बनाने के लिए उसका सामाजिकरण काफी ज्यादा मायने रखता है. यह उसकी बेसिक जरूरतों में से एक है.

जैसे कि हम छोटे बच्चों को धीरे-धीरे लोगों के बीच रहना उन्हें बड़ों के साथ कैसे पेश आना है, क्या चीज उसके लिए सही है क्या उसके लिए सही नहीं है यह सब सिखाते हैं.

Socialization puppy
Puppy care tips in Hindi – Socialization

ठीक इसी प्रकार इससे जुडी वे चीजे जो एक Puppies के लिए मायने रखती है, एक अच्छा सामाजिकरण के दौरान उसे सिखा सकते हैं.

जिसके लिए उसे समय-समय पर उसे लोगों की संख्या वाले स्थान जैसे मार्केट में या Walking Park में ले जाना चाहिए।

Quality Food – गुणवत्तापूर्ण भोजन

जब भी आप किसी Puppy को अपने घर पर लाते हैं या फिर पालते हैं तो आपको उसे Quality Food – गुणवत्तापूर्ण भोजन देना चाहिए, जो उसके शारीरिक और मानसिक विकास में सहायक हो.

क्योंकि पप्पी छोटी उम्र से जब विकसित हो रहे होते हैं, तो उन्हें विटामिन और मिनरल से युक्त गुणवत्तापूर्ण भोजन की जरूरत होती है. इसलिए आपको इसका विशेष रूप से ध्यान रखना चाहिए।

कितने उम्र के अभी के लिए कितने भोजन दिया जाना चाहिए और दिन में उसका शेड्यूल क्या होना चाहिए, यह हमारे द्वारा बताया जा रहा है टेबल से आप देख सकते हैं –

Puppies Age meals per day
6 से 12 हफ्ते4 बार, प्रति दिन भोजन
3 से 6 महीने3 बार, प्रति दिन भोजन
6 से 12 महीने2 बार, प्रति दिन भोजन

Puppy care tips in Hindi – व्यायाम की योजना बनाएं

एक अति छोटे और कम उम्र के पप्पी के लिए शारीरिक एक्सरसाइज की जरूरत नहीं पड़ती है, बस उन्हें स्वस्थ रखने के लिए उनके खाने-पीने पर आप को ध्यान देना चाहिए।

Puppy AgeExercise in Minutes
2 महीने के पप्पी20 मिनट/Day
3 महीने के पप्पी30 मिनट/Day
4 महीने के पप्पी40 मिनट/Day
5 महीने के पप्पी45 मिनट/Day
6 महीने के पप्पी50 मिनट/Day

2 महीने के पप्पी को दिन में दो बार 20 मिनट कम से कम न्यूनतम एक्सरसाइज करवाना चाहिए, इसके लिए आप चाहे तो यह दो शिफ्ट में कर सकते हैं.

Dalmatian Price in India

सुबह उन्हें 10 मिनट पहले फिर शाम को, फिर शाम को वाकिंग पर 10 मिनट के लिए ले जाएं, इससे वह फिट रहेगा।

3 महीने के कम से कम 30 मिनट, सुबह 15 मिनट और शाम को 15 मिनट की एक्सरसाइज करवाएं।

जबकि 4 महीने के लिए हर दिन 40 मिनट का व्यायाम जरुरी है. इससे वह मानसिक रूप से स्वस्थ रहेगा और एग्रेसिव नहीं होगा,

यदि आपका पप्पी एक उच्च ऊर्जा युक्त डॉग ब्रीड जैसे – Great Dane Dog, GDS, Husky, malamute, can corso, labrador है तो यह उसके लिए और भी अधिक जरुरी है.

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा “Puppy care tips in Hindi ” लेख पसंद आया होगा। तो इसे शेयर करें और रोज़ाना हमारी साइट DogKiDuniya को बुक्मॉर्क करें और विज़िट करें।
❈ शेयर करें -

About the author

admin

View all posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *