Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी – समोएड डॉग नस्ल के ये कुत्ते एक मध्यम वर्ग के चरवाहे कुत्तों में से एक है जिसमें मोटे व सफेद डबल लेयर के कोट होते है। ये कुत्ते एक प्रकार से शिफ्ट कुत्ते के रूप में जाने जाते है और ये साइबेरिया के समोएडिक लोगो के नाम लेते है।

Samoyed in Hindi A to Z Guide समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी

ऐसे में आज हम अपने इस आर्टिकल में आप सभी लोगो को समोएड नस्ल के कुत्तों के बारे में आपको सभी जानकारी प्रदान करेंगे। तो ऐसे में आप लोगो को सिर्फ ध्यान से पढ़ना है और इन कुत्तों के बारे में जानना है। इन कुत्तों के बारे में जानने के बाद आप कमेंट बॉक्स में बताए की आपको यह पोस्ट कैसी लगी।

VIDEO 📹 –

समोएड नस्ल के कुत्तों की पहचान एक मूल कुत्तों के नस्ल के रूप में किया गया है जो 19वीं शताब्दी में आधुनिक नस्लो के उद्भव से पहले की है। ऐसे कुत्तों के नमुनो का एक जीनोमिक अध्ययन होता है जो करीब लगभग 100 साल से भी पुराना हो चुका है।

इसके साथ ही यमल प्रायद्वीप पर नेटेट लोगो के द्वारा इसे प्राप्त भी किया जा चुका है। इसमें उन्होंने यह पाया की करीब पिछले 2000 वर्ष पुराने 850 वर्ष पुराने दो नमुनो से संबंधित है ऐसे में ये क्षेत्र वंश की निरंतरता का सुझाव देते।

सरोएड नस्ल के कुत्तों का इतिहास | Samoyed in Hindi

समोएड नस्ल के ये कुत्ते वास्तव में बेहद ही प्राचीन काल के है जिसे साईबेरिया में खानाबदोश जनजातियो के द्वारा अपने बारहसींगों को एक झुंड में रखने के लिये हमेशा ही चुना जाता है और इसके साथ ही इन्हें स्लेज खींचने के लिये जरूरत पड़ने पर दोगुना भी कर दिया जाता है.

समोएड साईबेरिया के स्पिट्स प्रकार के ऐसे कुत्ते लाइका चराने वाले नेनेट्स के वंशज होते है इन कुत्तों की रखवाली उनके मालिक काफी अच्छी तरीके से करते है व स्लेजिंग के साथ ही गर्म करने के लिये भी रखे जाते है।

समोएड नाम के इस नस्ल के कुत्तों का नाम उत्तरी रूस और साईबेरिया के जनजातियो से निकला है। हार्डी व बेहद ही सरल स्वभाव वाले समोएड का इस्तेमाल मूल रूप से साइबेरियन समोएड कुत्ता लोगो के लिये शिकार , हिरणों के झुंडों को और स्लेजिन के लिये इन कुत्तों का प्रयोग किया जाता था।

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी 7

पुराने लोगो के द्वारा ऐसा हमेशा ही कहा जाता है की समोएड ने इन कामकाजि कुत्तों के साथ काफी सरल स्वभाव के साथ व्यवहार किया जाता था जिसे उन्हें एक दिन के अंत में पारिवारिक गतिविधियों में शामिल होने की अनुमति मिल ही गयी।

इन कुत्तों की यही ऐसी निकटता थी जो आज भी इन कुत्तों की नस्लो के स्वभाव व वफादार भावना बेहद ही अच्छी है। हम आपको बता दे की इंग्लैंड देश के साथ ही साथ अमेरिका जैसे देश में भी समोएड नस्ल के इन अनुभवी कुत्तों की वंशज थी। सबसे पहला अमेरिका समोएड एक रूसी आयात के वक्त 1906 में एकेसि के साथ पंजीकृत किया जा चुका था।

  क्या Lebra Dog अच्छा पालतू जानवर हैं?

हम आपको बता दे की समोएड नस्ल के इन जैसे कुत्तों को एक मूल नस्ल के रूप में भी पहले से ही जाना जाता था जो 19वीं शताब्दी के आधुनिक नस्लो से भी पहले की है। सन 1800 के दशक के लगभग अंतिम क्षणों में ये नस्लें यूरोपीय देशों में भी आने लगी।

हालांकि ये सब पहले आयात एकदम शुद्ध सफेद कलर के नहीं थे लेकिन वहीं आज कल एक आम बात सी हो गयी है। इन शुरुआती आयातो में एक एलेक्ज़ेंड्रा के लिये बेहद ही प्रतिभाशाली था ऐसे में विश्व के सभी लोगो ने इसे आगे बढ़ाने के लिये काफी कड़ी मेहनत भी किया था।

समोएड का व्यक्तित्व और कीमत | Samoyed price, Personality

हम आपको बता दे की समोएड का यक्तित्व बेहद ही सरल और शानदार है। यह कुत्ता मिलनसार के साथ ही साथ काफी स्वाभाविक कुत्तों में से एक है। ये उन लोगो के लिये भी बेहद ही उत्कृष्ठ साथी है जो लोग घर से बाहर रहना भी पसंद करते है।

समोएड कुत्ते हमेशा ही जंगलों में काफी अच्छी बढ़ोतरी के लिये हमेशा ही तैयार रहते है और कैंपिंग ट्रिप पर आपको रातभर ऐसे कुत्तों की हमेशा ही आवश्यकता होती है।

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी 8

हालांकि इन कुत्तों को प्रशिक्षित करना मुश्किल भरा हो सकता है लेकिन गर्मियों के दिनों में इनके साथ आमतौर पर अच्छा व्यवहार किया जा सकता है और ऐसे में पहली बार कुत्तों के मालिकों के लिये यह काफी अच्छा हो सकता है।

हम आपको बता दे, की भारत देश में समोएड (Samoyed price) की कीमत लगभग 60000 रुपए से शुरुआत हो जाती है जो गुणवत्ता कोट प्रकृति, स्वास्थ्य रंग और नस्ल के प्रकार के ही आधार पर इन कुत्तों की कीमत 100000 लाख रुपए तक भी जा सकती है।

समोएड स्वभाव में कैसे हैं? | Samoyed in Temperament

समोएड नस्ल के इन जैसे कुत्तों का स्वभाव ही इन्हें गरीब रक्षक कुत्ता भी बनाता है और यह एक आक्रामक सामोदय दुर्लभ होते है। इस नस्ल को एक सतर्क और खुश अभिव्यक्ति की हमेशा ही विशेषता होती है जिसका उपनाम सैमी स्माईल और स्माईली डॉग के इस प्रकार के भी नाम होते है।

कोमल और काफी ज्यादा चंचल भरे ऐसे कुत्ते आपका और आपके बच्चों का साथी बेहद हो शानदार तरीके से बन सकता है। ऐसे कुत्ते करीबी बंधुआ जैसे होते है और वे आमतौर पर अन्य कुत्तों के साथ भी काफी मिलनसार जैसे कुत्ते होते है।

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी 9

ऐसे नस्ल के कुत्ते आपके घर में काफी शांत होते है लेकिन कभी – कभी ये कुत्ते सरातती नस्ल को दैनिक शारीरिक और मानसिक व्यायाम की भी आवश्यकता पड़ सकती है।

अगर इन कुत्तों को बांध दिया जाता है तो ये खुदाई करने लगेंगे इसके साथ ही वे भौंकना भी शुरू कर देते है। ऐसे कुत्ते अक्सर काफी स्वतंत्र और जिद्दी होते है लेकिन इसके बावजूद भी अपने परिवार को खुश रखने के लिये और दूसरों को जवाब देने के लिये हमेशा ही आगे खड़े रहते है। वे झुंड के बच्चों के पिये प्रवित्ति भी हो सकते है।

समोएड की दिखावट और शरीरिक बनावट | Samoyed appearance, Temperament

Samoyed puppy मध्यम आकार के होते है और इन कुत्तों की ऊंचाई 19 से 23 1/2 इंच के और वजन में ये 50 से 65 पाउंड यानी की तकरीबन 23 से 29 किलोग्राम तक हो सकते है। ये कुत्ते सामान्यतः चौकोर रूप से निर्मित काफी शक्तिशाली कुत्ते होते है जिनकि पीठ पर एक शराबी पंख वाली पूछ होती है और एक तरफ से लिपटी होती है इनके कान चुभते है.

  Dog ki itching KHTM krne k liye kya kre | कुत्ते की खुजली, कारन, बचाव और उपाय

और इनका सिर काफी चौड़ा भी होता है। ऐसे कुत्ते काफी बेहतरीन और प्यारे दिखाई देते है और इसके साथ ही ये मजबूत, सतर्क, फुर्तीला आर्कटिक कुत्ता है जो खुद को विशिष्टता गरिमा और अनुग्रह के साथ रखता है।

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी 10

वहीं इसके साथ ही अनिवार्य रूप से एक काम करने वाला काफी सक्रिय और सुंदर कुत्ता होता है। Samoyed puppy काफी चालाक और ताकत के साथ अनुग्रह का प्रतीक भी है यह शरीर के साथ कॉम्पैक्ट और मांसल है जो इससे लंबा है।

क्या समोएड को व्यायाम की आवश्यकता है? | Samoyed in exercise

समोएड नस्ल के ऐसे कुत्ते काफी ज्यादा सक्रिय होते है और इन्हें सैनिक व्यायाम की काफी ज्यादा आवश्यकता होती है। क्योंकि इस नस्ल के कुत्ते लोगो के साथ इतने अभ्यस्त होते है की ये प्रशिक्षण का काफी आनंद लेते है और आग्याकरिता , चपलता ,चराइ ,स्लेजिन्ग और वजन खींचने में अपनी खुशी के साथ प्रतिस्पर्धा करेंगे।

वहीं इसके साथ ही ये लंबे समय तक अकेले रहने में अच्छा नहीं जोते है। इनके स्वास्थ्य और खुशी का ख्याल रखने के लिये समोएड उचित मात्रा में जबरजस्त गतिविधि करना चाहेंगे।

हम आपको बता दे की इन कुत्तों का सर्थियो का समय काफी अच्छा होता है और इसके साथ ही आप यह सुनिश्चित करने में काफी सक्षम होंगे की आपका सैमी काफी अधिक समय तक बर्फ में खुलकर मनोरंजन कर सकेगा अगर खासतौर पर उसके साथ छोटे बच्चे हो।

लेकिन अगर बर्फ ना होने की वजह से आप अपने समोएड को कई बार चलाना चाहेंगे और आप उनके पैरों को फैलाने और प्रतिसप्ताह कई बार दौड़ाने की भी अनुमति प्रदान करेंगे। ऐसा करने से आपके कुत्ते का शरीर काफी पॉजिटिव भी नजर आने लगेगा।

समोएड डॉग के स्वास्थ्य से जुडी समस्याएं | Samoyed Health issue

लगभग सभी कुत्तों की तरह ही समोएड नस्ल के इन कुत्तों में आनुवंशिक स्वास्थ्य समस्याओं को विकसित करने की काफी अच्छी क्षमता है। इस नस्ल के कुत्ते आमतौर पर काफी ज्यादा स्वस्थ और तंदरुस्त होते है लेकिन सभी कुत्तों की नस्लो में थोड़ी समस्याएं होती है जिन्हें पहचाना जाना चाहिये और फिर समझदारी के साथ उसका निवारण करना चाहिये।

समोएड कुत्तों की नस्लो में भी थोड़ी समस्याएं पाई जाती है उदाहरण के तौर पे नेत्र रोग , हृदय रोग और हिप डिसप्लेसिया आदि से संबंधित रोग उत्पन्न हो सकते है। लेकिन इन नस्लो के सभी कुत्तों में इनमें से ज्यादा रोग नहीं होते है लेकिन अगर आप इन नस्लो पर विचार कर रहे है तो आपको उनके बारे में जानना काफी ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाता है।

मोटापा – Samoyed in Hindi

इन नस्ल के कुत्तों में एक बेहद ही महत्वपूर्ण स्वास्थ्य से संबंधित समस्या दिखाई दे सकती है। यह काफी गंभीर बीमारी के रूप में जाना जाता है जो जोड़ों की समस्याओं, चयापचन और पाचन विकार , पीठ दर्द और हृदय रोग का कारण बन सकती है।

हड्डी औए जोड़ों से संबंधित समस्याएं –

इन नस्ल के कुत्तों में कई प्रकार के अलग अलग मस्कुलोस्केलेटस बताई गयी है। हालांकि यह काफी बारी लग सकता है दर्द और उनकी पीड़ा को रोकने के लिये प्रत्यैक स्थिति का निदान और उसका उपचार उचित तरीके से किया जाना चाहिये।

संक्रमण –

समोएड कुत्तों को बैक्टीरिया और वायरस संक्रमण भी हो सकता है यह काफी संवेदनशील भी है किसी भी नस्ल के कुत्तों को हो सकता है।

  Can I give my German shepherd pup scrambled eggs after being spayed?

Samoyed puppy को Training कैसे दें?

इन नस्ल के कुत्ते प्रशिक्षण के आधार पर जानबूझकर और भी सरारती होते है उन्हें यह मदद करेगा की आप कितना प्रभावशली थे और Samoyed puppies को समझाने के लिये आप एकदम पर्याप्त रूप से सुसंगत थे और आप अपने घर के मालिक है।

हालांकि वे लोगो को एक टुकड़े के रूप में ही प्यार करते है सैमी हमेशा ही सुनना पसंद नहीं करते है और ऐसे में उनका प्रशिक्षण काफी ज्यादा चुनौतीपूर्ण भी साबित हो सकता है। कुत्ते की रुचि बनाए रखने के लिये सत्रों को छोटा रखा जाना चाहिये और गतिविधियों को विवध किया जाना चाहिये।

Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी
Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी 11

किसी भी नस्ल के कुत्तों के लिये सबसे ज्यादा व्यवहार काफी ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। हम सभी को किसी भी कुत्तों के मालिकों को किसी ना किसी समय उन कुत्तों के व्यवहार प्रशिक्षण को प्रकाशित करने की आवश्यकता होती है।

कुत्तों को आपका व्यवहार भी काफी पसंद आ सकता है ऐसे यह उनके लिये मददगार भी साबित हो सकता है। यदि आप अपने samoyed puppy को व्यवहार प्रशिक्षण के लिये अगर प्रशिक्षित करना चाहते है तो कुछ बेहद ही अच्छे मुद्दों पर आप पता लगाए।

जैसे की ब्रिकिन्ग, आक्रामकता, भोजन की रखवाली, हाउलिन्ग, मुंह और चबाना, अलगाव की चिंता आदि इन व्यवहार संबंधी कुत्तों को रोके और इसके साथ ही आप अपने कुत्तों को बेहद ही आसानि के साथ प्रशिक्षित कर सकते है।

Samoyed की Grooming कैसे करें?

इन नस्ल कब कुत्तों को आमतौर पर काफी ज्यादा रख रखाव या फिर कहे की संवारने की जरूरत होती है ताकि यह सुनिश्चित हो सके की उनका मोटा कोट स्वस्थ और मैट मुक्त रहे। इन नस्ल के कुत्तों में एक डबल कोट होता है जिन्हें साप्ताहिक ब्रश करने की अति आवश्यकता होती है।

आप या फिर आपके घर का अगर कोई भी व्यक्ति एलर्जी के द्वारा पीड़ित है तो इन कुत्तों पर भी संक्रमण का खतरा हो सकता है। ये नस्लें भारी रूप से बहाती है और आपको इनके देखभाल के साथ रहने की जरूरत है। यह एलर्जी वाले लोगो के लिये इन नस्ल के कुत्ते अच्छे कुत्तों में से एक नहीं है।

Samoyed को पीरियड्स के दौरान प्रतिदिन ब्रश करना काफी महत्वपूर्ण हो जाता है और इसके साथ ही अन्य के दिनों में लगभग एक सप्ताह में कम से कम दो से तीन दिनों तक इनपर अमल करना चाहिए।

आप उनके कोट से गंदगी को दूर करने के लिये कपड़ों का भी प्रयोग कर सकते है। उन्हें एलर्जी से बचाने के लिये आपको शावर के बाद कोट को ब्लू ड्राई करना अनिवार्य हो जाता है।

Samoyed छोटे बच्चों के प्रति कैसा व्यवहार अपनाते हैं?

इन नस्ल के पिल्लों को छोटे बच्चों के साथ मिल जुल के रहना और चंचल स्वभाव के साथ रहना उन्हें काफी पसंद है और ये अपने मालिकों के प्रति समर्पित भी होते है। जिससे इन नस्ल के कुत्ते काफी अच्छे परिवार के कुत्ते बन जाते है।

समोएड नस्ल के इन जैसे कुत्तों में एक उच्च ऊर्जा वाली नस्ल होती है। आपको इन नस्ल के अलावा और अन्य नस्ल के कुत्तों की ऊर्जा कम होती है और वे एकदम अलग दिखाई देते है।

मुझे उम्मीद है कि आपको हमारा "Samoyed in Hindi A to Z Guide | समोएड कुत्ते को पालने से पहले जरुरी जानकारी'' से जुड़ा लेख पसंद आया होगा। डॉग से जुड़े ऐसे ही बेहतरीन जानकारियों को पाने के लिए DOGKIDUNIYA.COM को बुक्मॉर्क करें और रोजाना विज़िट करें।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *