teeburb Capsules kya hum Dog ko de sakte hain 

❈ शेयर करें -

PET bada hone se pregnancy me problem hoti hai kya – teeburb Capsules का इस्तेमाल संक्रमण रोगों और घाव के लिए किया जाता है. पशुओं में संक्रमण रोग और घाव के साथ ही साथ सूजन काफी सामान्य समस्या है. घरेलू जानवर आमतौर पर रोगाणुओं, कवक, गुन, फाइलेरिया आदि से संक्रमित होते रहते हैं.

teeburb Capsules का इस्तेमाल –

teeburb Capsules का इस्तेमाल जानवर के प्रभावी और सुरक्षा प्रणाली को मजबूत करने के लिए किया जाता है. यह पायोडर्मा, रिंगवर्म, एक्जिमा के मामलों में और डेगनाला, मास्टिटिस, मांज, गर्भाशय संक्रमण आदि में सहायक है.

Advertisements
teeburb Capsules kya hum Dog ko de sakte hain 

teeburb Capsules kya hum Dog ko de sakte hain – teeburb Capsules का प्रयोग गाय, भैंस, घोड़ा, कुत्ते, सुअर, भेड़, बकरियां और बछड़े, ऊंट जैसे अन्य बड़े जानवरों के लिए किया जा सकता है. यदि आपका कुत्ता दाद, एक्जिमा, डेगनाला, मांगे, घाव, मास्टिटिस और अन्य सूजन की स्थिति से ग्रसित है तो teeburb Capsules प्रतिदिन एक दिया जाना चाहिए।

NOTICE: इस संबंध में और विस्तार से जानकारी के लिए अपने पशु चिकित्सक से दवा देने से पहले एक बार कंसल्ट जरूर करें |

SAR mein lagane wala Tel agar pet me chal jaye to kya hoga

SAR mein lagane wala Tel agar pet me chal jaye to kya hoga – यदि किसी गलती की वजह से सर में लगाए जाने वाला है तेल आपके पेट में चला जाता है या उसकी कुछ मात्रा तो हो सकता है कि आपको थोड़ा अजीब लगे, क्योंकि सर में लगाने वाले तेल में कई सारे कैमिकल मिलाए गए होते हैं.

हालांकि इसका बड़ा नुकसान नहीं होगा किंतु कुछ तेल में उसकी उसकी गंध की वजह से हो सकता है कि आपको उल्टी भी आ जाए तो इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है. किंतु यदि इससे ज्यादा बड़ी समस्या आपके लिए पैदा हो रही है तो आपको अपने डॉक्टर से पूछताछ करनी चाहिए |

PARVO me Dog ki Care Kaise karein

CPARVO क्या है?

CPARVO जिसे कैनाइन परवोवायरस एक संक्रामक वायरस है जो मुख्य रूप से कुत्तों को प्रभावित करता है। सीपीवी अत्यधिक संक्रामक है और कुत्ते से कुत्ते में उनके मल के साथ प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष संपर्क के माध्यम से फैलता है।

टीके इस संक्रमण को रोक सकते हैं, लेकिन अनुपचारित मामलों में मृत्यु दर 91% तक पहुंच सकती है। उपचार में अक्सर एक पशु चिकित्सा क्लिनिक शामिल होता है

क्या CPARVO कुत्ते को प्रभावित करता है?

कैनाइन परवोवायरस संक्रमण से बीमार कुत्तों को अक्सर “पार्वो” कहा जाता है। वायरस कुत्तों के जठरांत्र संबंधी मार्ग को संक्रमित करता है और सीधे कुत्ते-से-कुत्ते संपर्क और दूषित मल (मल), वातावरण या लोगों के संपर्क के माध्यम से प्रेषित होता है।

CPARVO SE अपने कुत्ते को कैसे बचाएं?

or

PARVO me Dog ki Care Kaise karein

PARVO से बचने के लिए कुत्ते को टीकें लगाये जाते हैं। PARVO वायरस के प्रकोप से कुत्ते को बचाने के लिए उसे कम से कम 3 टीके लगवाने चाहिए। उसे पहला टीका तब लगाया जाता है,

जब पप्पी की उम्र डेढ़ महीने हो, दूसरा ढाई महीने जबकि तीसरा साढे 3 महीने की उम्र में लगाया जाता है. PARVO कुत्ते की आंतों में गंभीर संक्रमण उत्पन्न कर देता है जिससे उसे कुछ पचता नहीं है खाने के बाद, सामान्य रूप से बाजार में PARVO वायरस के टीके की कीमत ₹200 है.

Dog agar Trauma May ho to kya kare

Dog agar Trauma May ho to kya kare – यदि आपका कुत्ता की तबीयत काफी ज्यादा खराब है उसकी स्थिति समय के साथ काफी तेजी से बिगड़ रही है तो ऐसे में वह ट्रामा में हो सकता है.

हालांकि, वहां अंदर उसकी सभी गतिविधियों को अच्छे प्रकार से मॉनिटर करने के लिए कई सारे मशीनें उपलब्ध होती हैं जिनके जरिए उसके शरीर के हर हिस्से की जांच और ध्यान बेहतर तरीके से रखा जा सकता है.

यदि आपका कुत्ता ट्रामा में (Dog agar Trauma May ho to kya kare) है तो आपको थोड़ा धैर्य रखना चाहिए. हालांकि, वह हर किसी को अंदर नहीं जाने देते हैं किंतु मौका मिलने पर आपको अपने कुत्ते को देखते रहना चाहिए कि उसके हालत में पहले से सुधार है या फिर नहीं।

मुझे आशा है कि "कैसे रखें अपने कुत्ते के स्वास्थ्य का ध्यान?" से संबंधित हमारा यह लेख आपको पसंद आया होगा। DOGKIDUNIYA.COM को बुकमार्क करें और कुत्ते से संबंधित इस तरह की और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए रोजाना विजिट करें।
❈ शेयर करें -

About the author

admin

View all posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *